यूपीएससी, एसएससी, बैंक, रेलवे सहित केंद्र एबं राज्य सरकारों द्वारा आयोजित सभी प्रतियोगिता परीक्षा के लिए

अति महत्वपूर्ण

प्रधानमंत्री नरेन्‍द्र मोदी को वर्ष 2018 का सियोल शांति पुरस्‍कार

भारत के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को सियोल शांति पुरस्कार (सियोल पीस प्राइज) 2018 के लिए चुना गया है. यह सम्‍मान उन्‍हें अन्तर्राष्ट्रीय सहयोग, वैश्विक आर्थिक प्रगति और भारत के लोगों के मानवीय विकास को तेज करने के लिए प्रतिबद्धता दिखाने पर दिया जा रहा है. प्रधानमंत्री मोदी यह पुरस्कार पाने वाले 14वें व्यक्ति होंगे.

उल्लेखनीय है कि हाल ही में संयुक्त राष्ट्र ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को सर्वोच्च पर्यावरण पुरस्कार ‘चैंपियंस ऑफ द अर्थ’ से सम्मानित किया था.

‘मोदिनॉमिक्स’ का श्रेय: उन्हें यह पुरस्कार भारत और दुनिया में ‘मोदीनॉमिक्स’ के जरिए उच्च आर्थिक विकास में योगदान, विश्व शांति में योगदान, मानव विकास में सुधार और भारत में लोकतंत्र को आगे बढ़ाने के लिए दिया जाएगा. पुरस्‍कार समिति ने माना है कि भारत और वैश्विक आर्थिक वृद्धि को मजबूती देने और अमीरों तथा गरीबों के बीच सामाजिक-आर्थिक असमानता को कम करने का श्रेय श्री मोदी को ही जाता है. समिति ने इस बात की भी सराहना की कि श्री मोदी ने शासन को साफ सुथरा बनाने के लिए भ्रष्‍टाचार पर अंकुश लगाने और नोटबंदी जैसे कदम उठाये. समिति ने वैश्विक और क्षेत्रीय शांति के लिए विदेश नीति और एक्‍ट ईस्‍ट पॉलिसी का श्रेय भी श्री मोदी को दिया है.

सियोल शांति पुरस्‍कार: एक दृष्टि

  • यह पुरस्कार दक्षिण कोरिया के ‘सियोल पीस प्राइज कल्‍चरल फाउंडेशन’ द्वारा दिया जाता है. इस फाउंडेशन के अध्यक्ष नॉन ई-ह्यॉक हैं.
  • 1990 में सियोल में आयोजित 24वें ओलंपिक खेलों की सफलता का जश्न मनाने के लिए सियोल शांति पुरस्कार की स्थापना की गई थी.
  • अंतरराष्ट्रीय ओलंपिक समिति के पूर्व अध्यक्ष जुआन एंटोनियो समरंच को सबसे पहले इस सम्मान से नवाजा गया था. इस सम्मान को प्राप्त करने वालों में संयुक्त राष्ट्र महासचिव कोफी अन्नान और जर्मन चांसलर एंजेला मर्केल शामिल हैं. वहीं लघु वित्तीय संस्थाओं और ग्रामीण बैंक के लिए विख्यात हुए मोहम्मद युनूस को भी यह पुरस्कार प्रदान किया जा चुका है.

कृषि वैज्ञानिक एमएस स्वामीनाथन को पहला विश्व कृषि सम्मान

प्रसिद्ध कृषि वैज्ञानिक और पर्यावरणविद् एमएस स्वामीनाथन को 26 अक्टूबर को पहला ‘विश्व कृषि सम्मान’ से सम्मानित किया गया. उप-राष्ट्रपति एम वेंकैया नायडू ने दिल्ली में इस सम्मान से सम्मानित किया.

उल्लेखनीय है कि एमएस स्वामिनाथन को युनाइटेड नेशन्स एनवायरनमेन्ट प्रोग्राम द्वारा ‘फादर ऑफ इकोनोमिक इकोलोजी’ का दर्जा दिया गया है.

मौजूदा समय में स्वामीनाथन सबसे प्रभावी कृषि और पर्यावरण विज्ञानी हैं, जो भारत में खाद्य सुरक्षा के लिए हरित क्रान्ति लाने में सक्रिय रहे. जेनेटिक्स, सायटो-जेनेटिक्स, रेडिएशन और कैमिकल म्युटोजेनेसिस, खाद्य और जैव विविधता के संरक्षण की दिशा में अनुसंधान के लिए दुनिया भर में इनकी पहचान है.


प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की जापान यात्रा

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी 28 से 29 अक्टूबर 2018 तक जापान की दो दिवसीय यात्रा पर थे. प्रधानमंत्री मोदी की यह तीसरी जापान यात्रा थी. जापानी प्रधानमंत्री शिंजो आबे ने प्रधानमंत्री मोदी का स्वागत यामानाशी के होटल माउंट फुजी में किया. आबे ने यामानशी में कावागुची झील के पास अपने निजी घर पर प्रधानमंत्री मोदी के लिए डिनर आयोजित किया. यह पहला मौका था जब आबे ने किसी विदेशी राजनीतिक नेता को यामानशी क्षेत्र के नारुसावा गांव में अपने घर पर आमंत्रित किया था. इससे पहले प्रधानमंत्री मोदी ने अपने गृह राज्य गुजरात में 2017 में कुछ इसी तरह से प्रधानमंत्री शिंजो आबे का स्वागत किया था.

शिंजो आबे के लिए उपहार: प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने अपने जापानी समकक्ष शिंजो अबे को कलात्मक दरियां और प्रस्तर के दो हस्तनिर्मित कटोरेनुमा पात्र उपहारस्वरूप भेंट किए. ये पात्र राजस्थान से प्राप्त गुलाबी और पीत वर्णी स्फटिक के हैं जबकि दरियों को उत्तर प्रदेश के कारीगरों ने तैयार किया है. प्रधानमंत्री ने उन्हें परंपरागत पच्चीकारी वाला लकड़ी का जोधपुरी संदूकचा भी भेंट किया.

प्रधानमंत्री ने फानुक का दौरा किया: प्रधानमंत्री मोदी ने जापान की इस यात्रा के दौरान रोबोटिक्स तकनीक की कंपनी फानुक (FANUC) का दौरा किया. फानुक की 108 देशों में 263 शाखाएं हैं. भारत में 26 साल से काम कर रहे फानुक की 26 शाखाएं हैं.

13वीं भारत-जापान द्विपक्षीय शिखर बैठक: प्रधानमंत्री मोदी ने जापान के प्रधानमंत्री शिंजो आबे के साथ 13वीं भारत-जापान वार्षिक द्विपक्षीय शिखर बैठक में हिस्सा लिया. इस बैठक का आयोजन जापान की राजधानी टोक्यो में किया गया था. शिखर वार्ता में दोनों नेताओं ने भारत-प्रशांत क्षेत्र के हालात समेत विभिन्न द्विपक्षीय, क्षेत्रीय और वैश्विक मुद्दों पर चर्चा की.

दोनों देशों के बीच छह समझौते: इस द्विपक्षीय शिखर बैठक के दौरान दोनों देशों के बीच छह समझौतों पर हस्ताक्षर हुए. दोनों देशों के बीच मुंबई-अहमदाबाद हाई स्पीड रेल परियोजना के लिए ओडीए कर्ज की दूसरी किश्त पर समझौता हुआ. इसके साथ ही आयुष्मान भारत से जुड़ी स्वास्थ्य सेवाओं, डिजिटल साझेदारी, खाद्य प्रसंस्करण और नौसेना के बीच सहयोग बढ़ाने को लेकर समझौता हुआ.

अंतरराष्ट्रीय सौर गठबंधन में शामिल होने की स्वीकृति: भारत-जापान द्विपक्षीय शिखर बैठक के बाद जापान ने अंतरराष्ट्रीय सौर गठबंधन में शामिल होने पर अपनी स्वीकृति व्यक्त की. जापान इस गठबंधन में शामिल होने के समझौते पर हस्ताक्षर करने वाला 71वां और इसकी पुष्टि करने वाला 48वां देश बन गया है.

13वीं भारत-जापान शिखर बैठक: एक दृष्टि

  • जापान ने अंतरराष्ट्रीय सौर गठबंधन में शामिल होने पर अपनी स्वीकृति व्यक्त की.
  • दोनों देशों के विदेश मंत्रियों तथा रक्षा मंत्रियों के बीच 2+2 वार्ता करने पर सहमति जताई. भारत का इस तरह का अमेरिका से समझौता है.
  • प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के दृष्टिकोण पर आधारित एक्ट ईस्ट नीति पर भारत-जापान के बीच सहयोग को बढ़ाने पर सहमति व्यक्त की गई.
  • रुपए की गिरती कीमत के बीच भारत और जापान ने आपस में 75 अरब डॉलर के बराबर विदेशी मुद्रा की अदला-बदली की व्यवस्था का भी करार किया.
  • जापान ने भारत में 2.5 बिलियन डॉलर के निवेश का ऐलान किया है. इससे भारत में करीब 30000 लोगों को रोजगार मिलेगा.
  • जापान ने भारत में सात प्रमुख बुनियादी ढांचा परियोजनाओं के लिए 316 अरब येन का ऋण देने पर सहमति व्यक्त की. इनमें मुंबई-अहमदाबाद बुलेट ट्रेन परियोजना तथा दिल्ली, पूर्वोत्तर और चेन्नई की परियोजनाएं शामिल हैं.

एशियन चैम्पियन्स ट्रॉफी हॉकी में भारत और पाकिस्तान संयुक्त रूप से विजेता

एशियन चैम्पियन्स ट्रॉफी हॉकी प्रतियोगिता में भारत और पाकिस्तान को संयुक्त रूप से विजेता घोषित किया गया. वर्षा के कारण 29 अक्टूबर को फाइनल मैच नहीं खेले जा सकने के कारण दोनों पक्ष के कोच की सहमति से यह निर्णय लिया गया. यह प्रतियोगिता ओमान के मस्कट में खेला गया था. इस प्रतियोगिता के राउंड रॉबिन चरण में भारत बिना कोई मैच हारे 13 अंकों के साथ शीर्ष पर रहा. भारत ने इस प्रतियोगिता में सिर्फ मलेशिया से गोलरहित ड्रॉ खेला था. उसके अलावा उसने ओमान को 11-0 से, पाकिस्तान को 3-1 से, जापान को 9-0 से, कोरिया को 4-1 से और सेमीफाइनल में जापान को 3-2 से हराया था.

चैम्पियन्स ट्रॉफी हॉकी: एक दृष्टि

  • मलेशिया ने जापान को पराजित कर इस प्रतियोगिता में तीसरा स्थान प्राप्त किया.
  • भारत द्वारा टॉस जीतने के आधार पर पहले साल ट्रॉफी उसके पास रहेगी. अगले साल पाकिस्तान के पास यह ट्रॉफी जाएगी.
  • इस प्रतियोगिता में आकाशदीप को टूर्नामेंट का सर्वश्रेष्ठ खिलाड़ी और पीआर श्रीजेश को सर्वश्रेष्ठ गोलकीपर चुना गया.
  • पाकिस्तान के अबु बाकर महमूद को सर्वश्रेष्ठ उदीयमान खिलाड़ी चुना गया. मलयेशिया के फैसल सारी ने सबसे ज्यादा गोल किए.
  • भारत और पाकिस्तान दो-दो बार इस प्रतियोगिता का खिताब जीत चुके हैं. भारत ने यह खिताब साल 2011 और 2016 में अपने नाम किया था वहीं पाकिस्तान ने लगातार दो बार 2012 और 2013 में यह खिताब अपने नाम किया था.

ब्राजील में दक्षिणपंथी उम्‍मीदवार जैर बोलसोनारो ने राष्‍ट्रपति चुनाव में जीत दर्ज की

ब्राजील में दक्षिणपंथी उम्‍मीदवार जैर बोलसोनारो ने राष्‍ट्रपति चुनाव में जीत हासिल की है. इस चुनाव श्री बोलसोनारो को 56 प्रतिशत वोट मिले हैं. उनके प्रतिद्वंद्वी वामपंथी वर्कर्स पार्टी के उम्‍मीदवार फर्नांडो हेडड को 44 प्रतिशत वोट मिले हैं. श्री बोल्‍सोनारो 1 जनवरी 2019 से कार्यभार संभालेंगे.

जैर बोलसोनारो: एक दृष्टि

  • 63 वर्षीय बोलसोनारो सेना के पूर्व कप्तान हैं. वे कन्जरवेटिव सोशल लिबरल पार्टी से आते हैं.
  • गर्भपात, नस्लवाद, समलैंगिकता और बंदूक से जुड़े क़ानूनों पर बोलसोनारो के उग्र विचारों के चलते उन्हें ‘ब्राज़ील का ट्रंप’ भी कहा जाता है.
  • बेलसोनारो का साना फ़र्नेंडो हेडड से था, जो साओ पाओलो के मेयर और शिक्षा मंत्री रह चुके हैं.

आयरलैंड के राष्ट्रपति के रूप में माइकल डी. हिगिन्स का चुनाव

आयरलैंड में हाल ही में हुए चुनाव में माइकल डी. हिगिन्स को फिर राष्ट्रपति चुना गया. उन्हें 56 प्रतिशत वोट मिले. पीटर कासे 23 प्रतिशत वोटों के साथ दूसरे स्थान पर रहे. इस चुनाव में 65 प्रतिशत मतदाताओं ने ईश निंदा को अपराध मानने की धारा को संविधान से हटाने के प्रस्ताव का भी समर्थन किया है. पिछले 50 वर्ष में श्री हिगिन्स पहले मौजूदा राष्ट्रपति हैं, जिन्हें दूसरे कार्यकाल के लिए चुनौती का सामना करना पड़ा.


स्वदेश निर्मित देश की पहली सेमी हाई स्पीड ट्रेन-18 का ट्रॉयल

स्वदेश निर्मित देश की पहली सेमी हाई स्पीड ‘ट्रेन 18’ का 29 अक्टूबर को ट्रॉयल किया गया. ये पूरी तरह से स्वदेश में ही बनी पहली सेमी हाई स्पीड ट्रेन है. मेट्रो ट्रेन की ही तरह ये एक ट्रेन सेट है, जिसमें अलग से इंजन नहीं हैं. ‘ट्रेन 18’ में आरामदायक कुर्सियों के साथ-साथ यात्रियों के मनोरंजन के लिए वाईफाई और इंफोटेनमेंट की पूरी सुविधा है. ये पूरी ट्रेन वातानुकूलित है और इसमें सीसीटीवी कैमरे भी लगाए गए हैं. जीपीएस आधारित पैसेंजर इंफॉर्मेशन सिस्टम भी ट्रेन में लगाया गया है. अनुसंधान अभिकल्प एवं मानक संगठन (आरडीएसओ) द्वारा तकरीबन 80 दिनों तक इस ट्रेन का ट्रायल जायेगा और फिर जनवरी में इसे भोपाल से दिल्ली के बीच चलाया जाएगा.

ट्रेन-18: एक दृष्टि

  • ‘मेक इन इंडिया’ के तहत चेन्नई के इंटीग्रल कोच फैक्टरी में तैयार किया गया है.
  • 100 करोड़ रुपये की लागत से महज़ 18 महीनों में तैयार किया गया.
  • यह एक हाईटेक, ऊर्जा-कुशल, खुद से चलने वाला या बिना इंजन के चलने वाला ट्रेन है.
  • यह स्टेनलेस स्टील से तैयार किया गया है. इस ट्रेन में 16 डिब्बे हैं.
  • अधिकतम रफ्तार 160 किमी प्रति घंटे है.
  • इलेक्ट्रिक ट्रैक्शन पर सेल्फ-प्रोपेल्ड मोड में चलती है.
  • ट्रेन में अत्याधुनिक सेफ्टी फीचर्स हैं और इसके सभी कलपुर्ज़े विश्वस्तरीय हैं.

श्रीलंका में नवनियुक्त प्रधानमंत्री महिंदा राजपक्षे की कैबिनेट ने सरकार में पदभार संभाला

श्रीलंका में नवनियुक्त प्रधानमंत्री महिंदा राजपक्षे की कैबिनेट ने 30 अक्टूबर को सरकार में पदभार संभाल लिया है. राष्ट्रपति मैत्रीपाला सिरीसेना ने नए मंत्रिमंडल को शपथ दिलायी जिसमें श्री राजपक्षे का नाम वित्त एवं आर्थिक मामलों के नए मंत्री के रूप में है. नए मंत्रिमंडल में 12 मंत्री हैं, जिनमें एक राज्यमंत्री और एक उप मंत्री है. नए मंत्रियों में तीन वे भी हैं जो श्री विक्रमसिंघे की यूनाइटेड नेशनल पार्टी (यूएनपी) से दल बदलकर आए हैं. साथ ही राष्ट्रपति श्री सिरीसेना ने संसद को 16 नवंबर तक के लिये स्थगित कर दिया है.

श्रीलंका में राजनीतिक संकट: श्रीलंका में 27 अक्टूबर 2018 को उस समय राजनीतिक संकट गहरा गया था जब राष्ट्रपति सिरिसेना ने औचक फैसले में प्रधानमंत्री विक्रमसिंघे को बर्खास्त कर दिया. उन्होंने महिंदा राजपक्षे को नया प्रधानमंत्री नियुक्त किया. राष्ट्रपति सिरिसेना ने राजपक्षे के लिए समर्थन जुटाने की कोशिश में संसद को भी निलंबित कर दिया.

राजनीतिक संकट की वजह: श्रीलंका में बर्खास्त प्रधानमंत्री रानिल विक्रमसिंघे की पार्टी यूनाइटेड नेशनल पार्टी (यूएनपी) ने राष्ट्रपति मैत्रीपाला सिरिसेना पर तख्तापलट का आरोप लगाते हुए इसके खिलाफ विरोध प्रदर्शन शुरु किया है. यूएनपी ने तत्काल संसद सत्र बुलाने और लोकतंत्र बहाल करने की मांग की. श्रीलंका की संसद के स्पीकर कारु जयसूर्या ने रानिल विक्रमसिंघे को ही देश के प्रधानमंत्री के तौर पर मान्यता दी है. जयसूर्या ने विक्रमसिंघे को संसद में विश्वास मत साबित करने देने का राष्ट्रपति से अनुरोध किया है.

बहुमत के लिए 113 सदस्यों की जरूरत: 225 सदस्यीय संसद में विक्रमसिंघे की पार्टी के पास सबसे ज्यादा 106 सदस्य हैं, जबकि राजपक्षे की पार्टी के पास 95 सदस्य हैं. बहुमत के लिए 113 सदस्यों की जरूरत होती है.

श्रीलंका में संवैधानिक व्यवस्था क्या है? श्रीलंका में सरकार की सेमी-प्रेसीडेंशियल प्रणाली है जिसमें प्रधानमंत्री और कैबिनेट के साथ एक राष्ट्रपति होता है. देश की संसद के लिए प्रधानमंत्री जिम्मेदार होता है. श्रीलंका में राष्ट्रपति को अमेरिका में राष्ट्रपति से ज्यादा अधिकार प्राप्त हैं. यहां कार्यान्वय के अधिकार राष्ट्रपति के पास हैं. वह संसद सत्र बुला सकते हैं, निलंबित कर सकते हैं या सत्रावसान कर सकते हैं. राष्ट्रपति प्रधानमंत्री के साथ सलाह मशविरा कर कैबिनेट की नियुक्ति करते हैं.

श्रीलांकाई संवैधानिक पहलु: श्रीलंका में वर्ष 2015 में लागू 19वें संविधान संशोधन के अनुसार राष्ट्रपति के पास अपने विवेक से प्रधानमंत्री को हटाने का अधिकार नहीं है. प्रधानमंत्री को तभी हटाया जा सकता है, जब कैबिनेट को बर्खास्त किया जाए या प्रधानमंत्री इस्तीफा दें या प्रधानमंत्री संसद के सदस्य नहीं रहें. राष्ट्रपति प्रधानमंत्री की सलाह पर ही किसी मंत्री को हटा सकते हैं.

श्रीलंका के प्रमुख नेता: दृष्टि

मैत्रीपाला सिरिसेना: मौजूदा राष्ट्रपति जिनके व्यापक राजनीतिक मोर्चा यूनाइटेड पीपुल्स फ्रीडम अलायंस ने गठबंधन सरकार से समर्थन वापस ले लिया.

महिंदा राजपक्षे: दो बार राष्ट्रपति रह चुके हैं. मौजूदा राष्ट्रपति ने नया प्रधानमंत्री नियुक्त किया है. चीन के समर्थक माने जाते हैं.

रानिल विक्रमसिंघे: यूएनपी के वरिष्ठ नेता हैं जिन्हें मौजूदा राष्ट्रपति ने प्रधानमंत्री पद से हटा दिया. विक्रमसिंघे भारत के समर्थक माने जाते है.

राष्ट्रीय घटनाक्रम

यूपीएससी, एसएससी, बैंक, रेलवे सहित
केंद्र एबं राज्य सरकारों द्वारा
आयोजित सभी प्रतियोगिता
परीक्षा के लिए

सरकार ने सीबीआई के दो शीर्ष अधिकारियों से सारे अधिकार वापस लिए

केंद्र सरकार ने सीबीआई निदेशक आलोक वर्मा और विशेष निदेशक राकेश अस्थाना से सारे अधिकार वापस ले लिए हैं और उन्हें अवकाश पर भेज दिया गया है. दोनों अधिकारियों के विवादों में उलझे होने के कारण केन्‍द्रीय सतर्कता आयोग (सीवीसी) ने उनके अधिकार वापस लिए जाने की शिफारिस सरकार से की थी.

एम नागेश्वर राव को सीबीआई निदेशक नियुक्त: केन्द्रीय कैबिनेट की नियुक्ति समिति ने संयुक्त निदेशक एम नागेश्वर राव को तत्काल प्रभाव से सीबीआई निदेशक का प्रभार दिया है. नागेश्वर राव अभी तक में सीबीआई के संयुक्त निदेशक के तौर पर काम कर रहे थे.


कार्यस्थल पर यौन उत्पीड़न के मामलों को रोकने के लिए मंत्री समूह गठित

सरकार ने कार्यस्थल पर यौन उत्पीड़न के मामलों से निपटने और इसे रोकने के लिए एक मंत्री समूह (जीओएम) का गठन किया है. गृहमंत्री राजनाथ सिंह इस मंत्री समूह के अध्यक्ष होंगे. मंत्री समूह के सदस्यों में सड़क परिवहन मंत्री नितिन गडकरी, रक्षा मंत्री निर्मला सीतारमण और महिला एवं बाल विकास मंत्री मेनका गांधी शामिल हैं. मंत्री समूह कार्यस्थल पर महिलाओं के यौन उत्पीड़न से संबंधित मामलों से निपटने के लिए मौजूदा कानूनी और संस्थागत ढांचों का परीक्षण करेगा.


बराक-8 मिसाइलों की खरीद के लिए इस्राइल से समझौता

भारत ने इस्राइल से बराक-8 मिसाइल की खरीद के लिए दोनों देशों ने एक समझौते पर हस्ताक्षर किए हैं. इस खरीद सौदे की लागत लगभग 77.7 करोड़ डॉलर हैं. इस समझौते के तहत इस्राइल की सरकार संचालित एक अग्रणी रक्षा कंपनी इस्राइल एरोस्पेस इंडस्ट्रीज (आईएआई) भारतीय नौसेना को सतह से हवा में मार करने वाली लंबी दूरी की बराक-8 मिसाइल तथा मिसाइल रक्षा प्रणाली की आपूर्ति करेगी. आईएआई भारतीय नौसेना के सात पोतों के लिए सतह से हवा में मार करने वाली लंबी दूरी की मिसाइल (एलआर-एसएएम) और हवाई मिसाइल रक्षा प्रणाली (एएमडी), एएमडी प्रणाली बराक-8 के समुद्री संस्करण, की आपूर्ति करेगी. आईएआई इस्राइल की सबसे बड़ी एरोस्पेस और रक्षा कंपनी है. समझौते के तहत नयी दिल्ली की भारत इलेक्ट्रॉनिक्स लिमिटेड (बीईएल) परियोजना के लिए मुख्य विनिर्माता होगी.


चाबहार बंदरगाह परियोजना पर पहली त्रिपक्षीय बैठक

भारत, अफगानिस्तान और ईरान ने 23 अक्टूबर को चाबहार बंदरगाह परियोजना पर पहली त्रिपक्षीय बैठक की. इस बैठक में परियोजना के कार्यान्वयन की समीक्षा की गई. तीनों पक्षों ने चाबहार बंदरगाह के जरिये अंतर्राष्ट्रीय पारगमन और परिवहन के लिए त्रिपक्षीय समझौते के पूर्ण संचालन के लिए विस्तृत विचार-विमर्श किया. बैठक में एक फॉलोअप कमेटी गठित करने का भी फैसला किया गया. इस बैठक की महत्ता इस वजह से अधिक है क्योंकि सामरिक दृष्टि से महत्वपूर्ण यह बंदरगाह ईरान पर अमरीकी प्रतिबंधों के दायरे में आ रहा है.

उल्लेखनीय है कि भारत, अफगानिस्तान और ईरान ने मई, 2016 में एक समझौते पर हस्ताक्षर किए थे जिसके तहत चाबहार बंदरगाह के इस्तेमाल से तीनों देशों के बीच पारगमन और परिवहन कॉरीडोर बनाने की बात कही गई थी.


सीबीआई के अधिकारियों पर लगे आरोपों की जांच रिपोर्ट दो सप्‍ताह में देने का निर्देश

उच्चतम न्यायालय ने 26 अक्टूबर को केंद्रीय अन्वेषण ब्यूरो (सीबीआई) के निदेशक आलोक कुमार वर्मा की याचिका पर सुनवाई की. श्री वर्मा ने उन्हें अवकाश पर भेजे जाने और एम नागेश्वर राव को अंतरिम प्रमुख नियुक्त किये जाने के फैसले को चुनौती दी है. न्यायालय ने अपने फैसले में दोनों अधिकारियों पर लगे आरोपों की जांच उच्‍चतम न्‍यायालय के पूर्व न्‍यायाधीश एके पटनायक की निगरानी में केन्‍द्रीय सतर्कता आयोग (सीवीसी) से कराने का निर्देश दिया है. न्‍यायालय ने दो सप्‍ताह के अंदर रिपोर्ट देने को कहा है. न्‍यायालय ने सीबीआई के अंतरिम निदेशक एम नागेश्‍वर राव को नीति संबंधी कोई बड़े फैसले न करने का भी निर्देश दिया है. मामले की अगली सुनवाई 12 नवम्‍बर तय की गयी है.


गंगा डेल्टा पर अनुसंधान के लिए भारत और ब्रिटेन में सहमति

गंगा डेल्टा क्षेत्र और बंगाल की खाड़ी के विभिन्न पहलुओं पर अनुसंधान के लिए भारत और ब्रिटेन में सहमति बनी है. इस विषय पर दोनों पक्षों में विचार-विमर्श जारी है. गंगा डेल्टा पर्यावरण के लिहाज से बेहद संवेदनशील है और इसका अध्ययन करना जरूरी है क्योंकि इस पर पड़ने वाला कोई भी प्रभाव वहां की आबादी पर भी पड़ता है. इसका प्रभाव दक्षिण-पश्चिम मानसून पर भी पड़ता है जो कि देश की जीवन रेखा है.


भारत और म्‍यामांर के बीच राष्‍ट्रीय स्‍तर की 22वीं बैठक

भारत और म्‍यामांर के बीच राष्‍ट्रीय स्‍तर की 22वीं बैठक 26 अक्टूबर को संपन्न हुई. यह बैठक 25 और 26 अक्‍टूबर,2018 को नई दिल्ली में आयोजित की गयी थी. बैठक में भारतीय शिष्‍टमंडल का नेतृत्‍व गृह सचिव श्री राजीव गाबा ने और म्‍यामांर के शिष्‍टमंडल का नेतृत्‍व वहां के गृह मंत्री मेजर जनरल आंग-थू ने किया.

बैठक में दोनो देश अपने-अपने भूभाग में सक्रिय उग्रवादी समूहों के विरूद्ध कार्रवाई करने पर सहमति व्‍यक्‍त की. दोनों देश अंतर्राष्‍ट्रीय सीमा पर सुरक्षा सहयोग प्रदान करने और लोगों की आवाजाही और व्‍यापार में सहायता देने पर सहमत हुये. दोनों देशों ने वन्‍य जीवों तथा मादक पदार्थों की तस्‍करी रोकने में सहयोग करने पर सहमति व्‍यक्‍त की.


भारतीय तटरक्षक बल के 17 डोर्नियर विमानों को उन्‍नत बनाने को मंजूरी

रक्षा खरीद परिषद ने भारतीय तट रक्षक बल के 17 डोर्नियर विमानों को तकनीकी रूप से उन्‍नत बनाने को मंजूरी दे दी है. इस पर करीब 950 करोड़ रुपये का खर्च आएगा. यह मंजूरी रक्षामंत्री निर्मला सीतारमन की अध्‍यक्षता में 27 अक्टूबर को हुई परिषद की बैठक में दी गयी. बैठक में लिए फैसले के अनुसार डोर्नियर विमानों को उन्‍नत बनाने का काम हिन्‍दुस्‍तान एयरोनॉटिक्स लिमिटेड करेगी. इस बैठक में तीन विमानों को प्रदूषण निगरानी प्रणाली से लैस करने को भी मंजूरी दी गई.


दिल्ली में 15 साल पुरानी पेट्रोल और 10 साल पुरानी डीजल गाडियों के संचालन पर रोक

सुप्रीम कोर्ट ने राजधानी दिल्ली में 15 साल पुरानी पेट्रोल और 10 साल पुरानी डीजल गाडियों के संचालन पर रोक लगाने का निर्देश दिया है. दिल्ली में प्रदूषण के बढते स्तर को रोकने के लिए यह निर्देश दिया गया है. कोर्ट ने परिवहन विभाग को ऐसे वाहन सड़कों पर पाए जाने पर उन्हें जब्त करने का निर्देश भी दिया है. इससे पहले नेशनल ग्रीन ट्रिब्यूनल (एनजीटी) ने भी 15 साल पुराने पेट्रोल और 10 साल पुराने डीजल वाहनों के दिल्ली-राष्ट्रीय राजधानी क्षेत्र में परिचालन पर प्रतिबंध लगा दिया था.


24वां भारत-इटली प्रौद्योगिकी शिखर सम्मेलन 2018

भारत और इटली प्रौद्योगिकी शिखर सम्मेलन का आयोजन 29-30 अक्टूबर 2018 को नई दिल्ली में किया गया. यह दोनों देशों के बीच होने वाली प्रौद्योगिकी शिखर सम्मेलन का ये 24वां संस्करण था. इसका आयोजन विज्ञान और प्रौद्योगिकी विभाग और भारतीय उद्योग परिसंघ ने किया था. सम्मेलन का उद्देश्य प्रौद्योगिकी हस्तांतरण, संयुक्त उद्यमों, विकास और अनुसंधान तथा उद्योग और अनुसंधान संस्थानों की बाजार तक पहुंच सुगम बनाने में मदद करना है. उल्लेखनीय है कि वर्ष 2018 में दोनों के बीच संबंधों की 70वीं वर्षगांठ भी मना रहे हैं.

इटली के प्रधानमंत्री की भारत यात्रा: इस सम्मेलन में भाग लेने के लिए इटली के प्रधानमंत्री ज्यूसेपे कॉन्टे 30 अक्टूबर को भारत यात्रा पर थे. वे सम्मेलन में हिस्सा लेने के लिये प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के निमंत्रण पर भारत आए थे. जून 2018 में पदभार ग्रहण करने के बाद इटली के प्रधानमंत्री ज्यूसेपे कॉन्टे की यह पहली भारत यात्रा थी. प्रधानमंत्री कॉन्टे ने नई दिल्ली में प्रधानमंत्री मोदी के साथ द्विपक्षीय वार्ता की, जिसमें व्यापार, निवेश सहित कई विषयों पर विस्तार से चर्चा हुई. दोनों नेताओं ने भारत-इटली प्रौद्योगिकी शिखर सम्मेलन में भाग लिया.

अंतरराष्ट्रीय घटनाक्रम

हांगकांग से मकाउ और ज़ुहाई को जोड़ने वाले विश्‍व के सबसे लम्‍बे समु्द्री पुल का उद्घाटन

चीन के राष्‍ट्रपति शी जिनफिंग ने समुद्र पर बने विश्‍व के सबसे लम्‍बे पुल की 23 अक्टूबर को शुरूआत की. यह पुल हांगकांग को मकाऊ और चीन के शहर जुहाई से जोड़ता है. राष्‍ट्रपति शी जिनफिंग ने हांगकांग और मकाऊ के नेताओं के साथ जुहाई में पुल के उद्घाटन समारोह में भाग लिया. 55 किलोमीटर लम्‍बे इस पुल को बनाने में बीस अरब डॉलर का खर्च आया है. पुल का लगभग तीस किलोमीटर हिस्‍सा पर्ल नदी के मुहाने पर बना है.


चीन का बिपानजियांग पुल दुनिया का सबसे ऊंचा पुल घोषित

गिनीज विश्व रिकॉर्ड ने चीन के बिपानजियांग पुल को विश्व का सबसे ऊंचा पुल घोषित किया है. बेइपानजियांग पुल चीन के पहाड़ी प्रांतों प्रांतों यून्नान और गीझू को आपस में जोड़ता है. इस पुल के ज़रिये उनके बीच यात्रा का समय लगभग एक-चौथाई रह गया है. यह पुल बेजपानजियांग नदी घाटी पर बनाया गया है. इस पुल की ऊंचाई 565 मीटर (1,854 फुट) और लम्बाई 1,341 मीटर है.


जलवायु निधि द्वारा गरीब देशों में परियोजनाओं के लिए एक अरब डॉलर का अनुदान

संयुक्त राष्ट्र की संस्था जलवायु निधि ने भारत समेत गरीब देशों में 19 नयी परियोजनाओं के लिए एक अरब डॉलर के अनुदान को मंजूरी दी है. इस अनुदान का उद्देश्य विकासशील देशों को जलवायु परिवर्तन पर नियंत्रण लगाना है. बहरीन में 20 अक्टूबर को संपन्न हुई चार दिवसीय बैठक में ‘हरित जलवायु निधि’ से जुड़े अधिकारियों में सहमति बनी कि वे अगले साल और धन जुटाने का प्रयास करेंगे, क्योंकि 6.6 अरब डॉलर की शुरुआती पूंजी जल्द ही खर्च हो जायेगी. इस निधि को वर्ष 2018 तक धनी देशों से 10 अरब डॉलर से ज्यादा राशि मिलनी थी, लेकिन अमेरिका ने कोष को मिलने वाले अनुदान का एक बड़ा हिस्सा रोक दिया. पूर्व राष्ट्रपति बराक ओबामा ने जलवायु निधि को तीन अरब डॉलर देने का वादा किया था, लेकिन ट्रंप ने इसमें से दो अरब डॉलर रोक दिया है.


अमरीका में श्री ओबामा और सुश्री हिलेरी के घरों पर विस्फोटक भेजे जाने की घटना

अमरीका में पूर्व राष्ट्रपति बराक ओबामा और हिलेरी क्लिंटन के घरों पर 23 अक्टूबर को किसी अज्ञात स्रोत द्वारा विस्फोटक भेजने की घटना घटी. भेजे गए दो संभावित विस्फोटक उपकरण समय रहते बीच में ही रोक लिए गए और उन्हें निष्क्रिय कर दिया गया. अमरीकी खुफिया सेवा के अनुसार सामान्य डाक जांच प्रक्रिया के दौरान विस्फोटकों की शीघ्र पहचान कर ली गई और उन्हें तत्परता से निष्क्रिय कर दिया गया.


महिंदा राजपक्षे ने श्रीलंका के प्रधानमंत्री के रूप में शपथ ली

श्रीलंका में 26 अक्टूबर को महिंदा राजपक्षे ने प्रधानमंत्री के रूप में शपथ ली. राष्ट्रपति मैत्रिपला सिरीसेना ने उन्हें पद और गोपनीयता की शपथ दिलाई. राजपक्षे ने रानिल विक्रमसिंघे की जगह लेंगे. महिंद्रा राजपक्षे पूर्व में भी श्रीलंका के प्रधानमंत्री और राष्ट्रपति रह चुके हैं. महिंदा राजपक्षे श्रीलंका पोडुजना पार्टी (एसएलपीपी) के प्रमुख हैं. राजपक्षे श्रीलंका की संसद के लिए सबसे पहले सन 1970 में चुने गए थे. अप्रैल 2004 को वो श्रीलंका के प्रधानमंत्री बने. 2005 में वो श्रीलंका के राष्ट्रपति चुने गए. 2010 को राजपक्षे एक बार अपने दूसरे कार्यकाल के लिए राष्ट्रपति चुने गए. अब वो प्रधानमंत्री बने हैं.


रूस ने ‘सोयुज-2B’ रॉकेट का सफल प्रक्षेपण किया

रूस ने 25 अक्टूबर को ‘सोयुज-2B’ रॉकेट का सफल प्रक्षेपण किया. इस प्रक्षेपण में यह राकेट रूसी सेना के लिए एक उपग्रह लेकर गया. ये उपग्रह नियत समय पर कक्षा में स्थापित हो गया.


भारत और बांग्लादेश के बीच जलमार्ग संपर्क बढ़ाने के लिए समझौते

भारत और बांग्लादेश ने अंतर्देशीय और तटीय जलमार्ग संपर्क बढ़ाने के लिए 26 अक्टूबर को कई समझौतों पर हस्ताक्षर किये. इस समझौते के तहत बांग्लादेश में चट्टोग्राम और मोन्गला गोदियों को भारत से आने वाले और भारत को भेजे जाने वाले सामान के आवागमन के लिए इस्तेमाल किया जाएगा. इसके अलावा यात्रियों के आने-जाने और नौवहन सेवाओं के लिए भी एक मानक संचालन प्रक्रिया (एसओपी) पर भी हस्ताक्षर किए गए. समझौते के तहत दोनों देशों के बीच नदी रास्ते नौवहन सेवाएं कोलकाता-ढाका-गुवाहाटी-जोरहट के बीच शुरू की जाएगी. इसके अलावा भगीरथी नदी पर जांगीपुर नौवहन क्षेत्र को दोबारा खोलने पर भी विचार किया जाएगा, जो भारत और बांग्लादेश के बीच फरक्का में गंगा का पानी साझा करने संबंधी संधि के प्रावधानों के अनुरूप होगा.


ब्रिटिश सेना के सभी पद पर महिलाएं नियुक्ति के लिए योग्य

ब्रिटेन की सरकार ने ब्रिटिश सेना के सभी पद पर महिलाओं की नियुक्ति के लिए योग्य करने की 25 अक्टूबर को घोषणा की. इस घोषणा के बाद महिलाएं सेना के किसी भी पद के लिए आवेदन कर सकेंगी, जिनमें एसएएस जैसी प्रतिष्ठित इकाई भी शामिल है.


अमेरिका और जापान द्वारा संयुक्त रूप से विकसित इंटरसेप्टर सिस्टम का परीक्षण

अमेरिकी सेना ने 26 अक्टूबर को नए इंटरसेप्टर सिस्टम (मिसाइल रक्षा प्रणाली) का सफल परीक्षण किया. यह परीक्षण हवाई के पश्चिमी तट पर किया गया. यह नई प्रणाली अमेरिका ने जापान के साथ मिलकर विकसित की है. इस परीक्षण में मध्यम दूरी की बैलेस्टिक मिसाइल को सफलतापूर्ण ध्वस्त कर दिया. इससे पहले जून 2017 और जनवरी 2018 में मिसाइल को रोक कर उसे नष्ट करने के दो परीक्षण असफल रहे थे.

क्या है इंटरसेप्टर सिस्टम? इंटरसेप्टर सिस्टम के तहत ऐसी मिसाइलें आती हैं जो दुश्मन मिसाइल को लक्ष्य तक पहुंचने से पहले ही उसे रोक कर नष्ट कर देती हैं.


संयुक्त राष्ट्र मानवाधिकार सम्मान की घोषणा

संयुक्त राष्ट्र ने 26 अक्टूबर को मानवाधिकार सम्मान, 2018 पुरस्कार को पाने वाले चार नामों की घोषणा की. यह पुरस्कार पाकिस्तान की मानवाधिकार कार्यकर्ता अस्मा जहांगीर (मरणोपरांत), तंजानिया की कार्यकर्ता रेबेका ग्यूमी, ब्राजील की पहली मूल निवासी वकील जोएनिया वापिचाना और आयरलैंड का मानवाधिकार संगठन ‘फ्रंट लाइन डिफेंडर्स’ को दिया जायेगा. पाकिस्तान की जहांगीर का दिल का दौरा पड़ने से 11 फरवरी, 2018 को निधन हो गया था. वह पाकिस्तान सुप्रीम कोर्ट बार एसोसिएशन की पहली महिला अध्यक्ष भी रहीं थीं.

मानवाधिकार के क्षेत्र में संयुक्त राष्ट्र सम्मान एक मानद पुरस्कार है जो मानवाधिकार के क्षेत्र में महत्वपूर्ण उपलब्धियों पर दिया जाता है. सम्मान 10 दिसंबर को विश्व मानवाधिकार दिवस के दिन न्यूयॉर्क में आयोजित एक समारोह में दिया जाएगा.


सीरिया के मुद्दे पर र्चचा के लिए शिखर सम्मेलन

सीरिया में संघर्ष विराम के मुद्दे पर र्चचा के लिए तुर्की के इस्तांबुल में 28 अक्टूबर को चार पक्षीय शिखर सम्मेलन का आयोजन किया गया. इस सम्मेलन में चार देशों के नेताओं (तुर्की के राष्ट्रपति एदरेगन, रूस के राष्ट्रपति व्लादिमीर पुतिन, जर्मनी की चांसलर एजेंला मर्केल और फ्रांस के राष्ट्रपति इमैनुएल मैक्रॉन) ने हिस्सा लिया. इन नेताओं ने सीरिया में विद्रोहियों के कब्जे वाले इदलिब में जारी संघर्ष विराम की सुरक्षा करने का आह्वान किया है. सम्मेलन के अंत में संयुक्त बयान जारी करके युद्ध प्रभावित सीरिया में नए सीरियाई संविधान का मसौदा तैयार करने के लिए समिति गठित करने पर सहमति जताई. सम्मेलन बैठक में मैक्रॉन ने राष्ट्रपति बशर अल-असद की सरकार का समर्थन करने वाले रूस से इदलिब में स्थायी संघर्ष विराम के लिए दमिश्क पर स्पष्ट दबाव बनाने का आग्रह किया. विद्रोहियों को समर्थन दे रहे तुर्की ने पिछले महीने इदलिब के चारों ओर एक बफर क्षेत्र बनाने के लिए रूस के साथ सहमति व्यक्त की थी.


इंडोनेशिया का यात्री विमान समुद्र में दुर्घटनाग्रस्‍त

इंडोनेशिया में 29 अक्टूबर को लॉयन एयर का विमान समुद्र में दुर्घटनाग्रस्‍त हो गया. यह विमान राजधानी जकार्ता से उड़ान भरा था और पांगकाल पिनांग जा रहा था. विमान में 188 यात्री सवार थे. ये विमान उड़ान भरने के कुछ मिनट बाद रडार से गायब हो गया था.


जर्मनी की चांसलर ने अगले कार्यकाल में हिस्सा नहीं लेने का निर्णय लिया

जर्मनी की चांसलर एंजेला मर्केल ने 2021 में अपना कार्यकाल पूरा होने के बाद अगले कार्यकाल के लिए चुनाव में हिस्सा नहीं लेने का निर्णय लिया है. चांसलर के रूप में यह उनका अंतिम कार्यकाल होगा. बर्लिन में अपनी पार्टी मध्य-दक्षिणपंथी क्रिश्चियन डेमोक्रेट (सीडीयू) के नेताओं के साथ बैठक के बाद उन्होंने यह निर्णय लिया. उल्लेखनीय है कि सुश्री मर्केल पिछले 13 साल से जर्मनी की चांसलर हैं. वो पहली बार 2005 में इस पद पर काबिज हुईं जबकि 14 मार्च, 2014 को वह चौथी बार जर्मनी की चांसलर बनीं.

आर्थिकी घटनाक्रम

आईटीईआर परियोजना के लिए उपकरणों की आपूर्ति करने वाले देशों में भारत शीर्ष पर

भारत अन्तर्राष्ट्रीय ताप परमाणु प्रायोगिक रिएक्टर अनुसंधान परियोजना (ITER) के लिए फ्रांस को उपकरणों की आपूर्ति करने वाले देशों में शीर्ष पर है. इस परियोजना का उद्देश्य परमाणु फ्यूजन (संलयन) से सस्ती, प्रदूषणविहीन और असीमित ऊर्जा उत्पन्न करना है.

क्या है आईटीईआर? आईटीईआर, अंतर्राष्ट्रीय ताप परमाणु प्रायोगिक रिएक्टर का संक्षिप्त रूप है. आईटीईआर का उद्देश्य व्यावसायिक उपयोग के लिए फ्यूजन से ऊर्जा तैयार करने की संभावना तलाशना है.

परियोजना के सदस्‍य देश: इस परियोजना के भागीदार यूरोपियन यूनियन, जापान, चीन, रूस, दक्षिण कोरिया, दक्षिण अफ्रीका और अमेरिका हैं. भारत आधिकारिक रूप से इस परियोजना में 6 दिसम्बर, 2005 को शामिल हुआ था.

आईटीईआर (इंटरनेशनल थर्मोन्यूक्लियर एक्सपेरिमेंटल रिएक्टर): एक दृष्टि

  • ऊर्जा की कमी की समस्या से निबटने के लिए भारत सहित विश्व के कई राष्ट्रों द्वारा चलाया जा रहा एक अनुसंधान परियोजना है.
  • यह अनुसंधान अंतर्राष्ट्रीय परमाणु ऊर्जा एजेंसी (आईएईए) के सहयोग से ‘संलयन नाभिकीय प्रक्रिया’ पर आधारित है.
  • यह हाइड्रोजन बम के सिद्धांत पर आधारित नाभिकीय परियोजना को प्रयोग के तौर पर शुरू किया गया है.
  • इसमें नाभिकीय संलयन से उसी प्रकार से ऊर्जा मिलेगी जैसे पृथ्वी को सूर्य या अन्य तारों से मिलती है.
  • वर्ष 2000 में इस परियोजना की कुल लागत 4.57 अरब यूरो आंकी गयी थी.

देश में प्रत्यक्ष कर संग्रह में 15.7 प्रतिशत की बढ़ोतरी

चालू वित्त वर्ष (2018-19) में अक्टूबर के तीसरे सप्ताह तक सालाना आधार पर 15.7 प्रतिशत बढ़कर 4.89 लाख करोड़ रुपये पर पहुंच गया. आयकर विभाग को 21 अक्टूबर तक 5.8 करोड़ आयकर रिटर्न मिले, जबकि पिछले वित्त वर्ष की समान अवधि में यह आंकड़ा 3.6 करोड़ का था. यह 61 प्रतिशत की वृद्धि है. देश में करदाताओं का आधार बढ़ाने के लिए सीबीडीटी ने आयकर विभाग को चालू वित्त वर्ष के अंत तक 1.25 करोड़ नए आयकरदाता जोड़ने का लक्ष्य दिया है. पिछले साल 1.06 करोड़ नए आयकरदाता जोड़े गए थे. फिलहाल देश में करदाताओं की संख्या 6.26 करोड़ है.


प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने ‘मैं नहीं हम’ नाम के एक ऐप की शुरुआत की

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने 24 अक्टूबर को ‘मैं नहीं हम’ नाम के एक पोर्टल और ऐप की शुरुआत की. यह ऐप कारोबारियों और संगठनों को सामाजिक सरोकारों और समाज सेवा से जुड़े उनके प्रयासों को एक साथ लाने का मंच प्रदान करेगा. ‘सेल्‍फ फॉर सोसायटी’ की थीम पर काम करने वाला यह पोर्टल आईटी क्षेत्र से जुड़े कारोबारियों और संगठनों को सामाजिक सरोकारों और समाज सेवा से जुड़े उनके प्रयासों को एक साथ लाने का मंच प्रदान करेगा. इसके माध्‍यम से प्रौद्योगिकी का लाभ समाज के कमजोर तबके तक पहुंचाने के लिए आपसी सहयोग के प्रयासों में तेजी लाई जा सकेगी. पोर्टल के जरिए समाज की बेहतरी के लिए काम करने के इच्‍छुक लोगों की व्‍यापक सहभागिता को भी बढ़ावा दिया जा सकेगा.


इफ्को विश्व की सबसे बड़ी सहकारिता कंपनी

‘र्वल्ड को-आपरेटिव मानिटर’ द्वारा हाल ही में रिपोर्ट में भारत के प्रमुख उर्वरक कंपनी इफ्को को फिर से दुनिया की सबसे बड़ी सहकारिता कंपनी बताया है. अंतरराष्ट्रीय सहकारिता संधि (आईसीए) और सहकारी एवं सामाजिक उद्यमों से संबंधित यूरोपीय अनुसंधान संस्थान (यूरि-सीएसई) यह रिपोर्ट प्रकाशित करती है. इफ्को के लगभग 36,000 सदस्य सहकारी समितियां हैं और उसका कारोबार वित्त वर्ष 2017-18 में लगभग तीन अरब डॉलर था. इसने 2016 से शीर्ष स्थिति को कायम रखा है.


अप्रैल 2020 से बीएस-4 मानक के वाहनों की बिक्री बंद करने का निर्देश

उच्चतम न्यायालय ने भारत स्टेज, बीएस-4 मानक के वाहनों की बिक्री 1 अप्रैल 2020 से बंद करने का निर्देश दिया है. उच्चतम न्यायालय के बाद भारत में 1 अप्रैल 2020 से बीएस-4 मानक के वाहनों की बिक्री और पंजीकरण प्रतिवंधित हो जायेगा. न्यायालय ने कहा कि नागरिकों के स्वास्थ्य के साथ किसी प्रकार का समझौता नहीं किया जा सकता और इसको प्राथमिकता देनी होगी.

उल्लेखनीय है कि सरकार ने मोटर वाहनों के होने वाले वायु प्रदूषण को नियंत्रित करने के लिए बीएस-उत्सर्जन मानक तय किए हैं.


आर्सेलर मित्तल ने एस्सार स्टील के अधिग्रहण किया

प्रवासी भारतीय लक्ष्मी मित्तल के नेतृत्व वाली आर्सेलर मित्तल ने एस्सार स्टील का अधिग्रहण कर लिया है. कंपनी ने इसके लिए 42,000 करोड़ रपए से अधिक की बोली लगाई थी. एस्सार स्टील के अधिग्रहण के बाद आर्सेलर मित्तल की भारत में इस्पात कारखाना खोलने की लंबे समय से चला आ रहा सपना पूरा करने में मदद मिलेगी. उल्लेखनीय है कि एस्सार स्टील कर्ज में डूबी ही है और कर्जदाता बैंकों की समिति ने 25 अक्टूबर को आर्सेलर मित्तल को अधिग्रहण के लिए चुना.


किसानों की आय दोगुनी करने पर गठित समिति ने राष्ट्रपति को सौंपी रिपोर्ट

किसानों की आय 2022 तक दोगुना करने के लिए बनी राज्यपालों की समिति ने 27 अक्टूबर को अपनी रिपोर्ट राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद को सौंप दी. समिति ने इस रिपोर्ट में कृषि क्षेत्र को लाभप्रद बनाने और इसकी आर्थिक दशा सुधारने के लिए 21 सिफारिशें सौंपी हैं.

राम नाईक की अध्यक्षता में गठित समिति: यह समिति जून 2018 में राज्यपालों के सम्मेलन ‘अप्रोच टू एग्रीकल्चर – ए हॉलिस्टिक ओवरव्यू’ के दौरान गठित की गर्इ थी. उत्तर प्रदेश के राज्यपाल राम नाईक की अध्यक्षता में गठित इस समिति में आंध्र प्रदेश और तेलंगाना के राज्यपाल ईएसएल नरसिम्हन, कर्नाटक के राज्यपाल वजु भाईवाला, हिमाचल के राज्यपाल आचार्य देवव्रत, मध्य प्रदेश की राज्यपाल आनंदीबेन पटेल शामिल हैं.

समिति की सिफारिश: इस रिपोर्ट में सभी राज्यपालों के विचारों और सुझावों को शामिल किया गया है. ये सुझाव खाद्य सुरक्षा, स्वास्थ्य सुरक्षा, ऊर्जा सुरक्षा, जल सुरक्षा, पर्यावरण सुरक्षा, जैविक कृषि तथा कृषि में महिलाओं की भूमिका से संबंधित है. राज्यपालों की समिति ने भूमि, जल, बीज, उर्वरक, ऊर्जा, बाजार आदि को सरलीकृत किए जाने की तत्काल आवश्यकता बतार्इ है. समिति ने प्रधानमंत्री फसल बीमा योजना के तहत प्रीमियम की दर 5% से घटाकर फसलों की भांति 2.5% करने का भी सुझाव दिया है. यह प्रीमियम 90:10 के अनुपात में होना चाहिए. इसके अलावा मनरेगा को कृषि कार्यों से जोडऩे का सुझाव दिया गया है.


प्रवर्तन निदेशालय के प्रमुख के रूप में श्री संजय कुमार मिश्रा की नियुक्ति

सरकार ने श्री संजय कुमार मिश्रा को प्रवर्तन निदेशालय (ईडी) का प्रमुख नियुक्‍त किया है. भारतीय राजस्‍व सेवा के 1984 बैच के अधिकारी श्री मिश्रा को प्रवर्तन निदेशालय में प्रधान विशेष निदेशक के रूप में नियुक्‍त किया गया है. उन्‍हें तीन महीने तक या निदेशक की नियमित नियुक्ति होने तक निदेशक का अतिरिक्‍त प्रभार भी सौंपा गया है. प्रवर्तन निदेशालय के निदेशक कर्नल सिंह का कार्यकाल 26 अक्टूबर को समाप्‍त हो गया था.


सॉफ्टवेयर-डिफाइन्ड नेटवर्क प्रयोगशालाओं की बेंगलुरू और टोक्यों में स्थापना

भारतीय सॉफ्टवेयर कंपनी टेक महिंद्रा ने 29 अक्टूबर को जापान की इलेक्ट्रॉनिक कंपनी राकुटेन के साथ एक समझौता ज्ञापन (एमओयू) पर हस्ताक्षर किए हैं. इस समझौता के तहत अलगी पीढ़ी (4जी और 5जी) के सॉफ्टवेयर-डिफाइन्ड नेटवर्क प्रयोगशालाओं की बेंगलुरू और टोक्यों में स्थापना की जाएगी.

भारतीय राज्य

बहराइच और खलीलाबाद के बीच बड़ी रेल लाइन को मंजूरी

मंत्रिमंडल की आर्थिक मामलों की समिति ने 24 अक्टूबर को उत्तर प्रदेश के बहराइच और खलीलाबाद के बीच बड़ी रेल लाइन परियोजना को मंजूरी दी. इस परियोजना पर करीब पांच हजार करोड़ रुपये की लागत आएगी. इस रेल मार्ग के बनने से बौद्ध पर्यटन क्षेत्र को बढ़ावा मिलेगा. यह परियोजना 2024-25 तक पूरा होगा.


दिल्ली के 27 विधायकों को की सदस्यता के अयोग्य करार देने की याचिका नामंजूर

राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद ने दिल्ली के 27 विधायकों को विधानसभा की सदस्यता के अयोग्य करार देने की मांग करने वाली याचिका को 25 अक्टूबर को नामंजूर कर दिया. ये आम आदमी पार्टी (आप) के विधायक हैं. इन विधायकों पर लाभ के पद पर होने का आरोप लगा था.

चुनाव आयोग ने 21 जून, 2016 को विभोर आनंद द्वारा दायर की गई याचिका में गुण नहीं पाया. याचिका में दावा किया गया था कि आप के ये 27 विधायक शहर के कई अस्पतालों से जुड़ी रोगी कल्याण समितियों के प्रमुखों के रूप में नियुक्त है जो कि लाभ का पद है.


मद्रास हाईकोर्ट ने विधायकों को अयोग्य घोषित करने के विधानसभा अध्यक्ष के फैसले को बरकरार रखा

मद्रास हाईकोर्ट ने तमिलनाडु में 18 बागी विधायकों को अयोग्य घोषित करने के विधानसभा अध्यक्ष के फैसले को बरकरार रखने का 25 अक्टूबर को फैसला सुनाया. ये सभी 18 विधायक अन्नाद्रमुक से अलग हुए टीटीवी दिनाकरन के खेमे के हैं.

क्या है मामला? तमिलनाडु विधानसभा अध्यक्ष धनपाल ने सितंबर 2017 में अन्नाद्रमुक (एआईएडीएमके) के 18 विधायकों को दलबदल विरोधी कानून के तहत अयोग्य घोषित कर दिया था. इन विधायकों ने राज्यपाल से मुलाकात कर कहा था कि मुख्यमंत्री के. पलानीस्वामी में उनका विश्वास नहीं है. अयोग्य घोषित किये गये विधायकों ने अध्यक्ष की कार्रवाई के खिलाफ सितंबर 2017 में हाईकोर्ट में अपील दायर की थी.


दिल्ली के पूर्व मुख्यमंत्री मदन लाल खुराना का निधन

दिल्ली के पूर्व मुख्यमंत्री मदन लाल खुराना का 28 अक्टूबर को निधन हो गया. वह 82 वर्ष के थे. खुराना राजस्थान के राज्यपाल भी रह चुके थे. वह राष्ट्रीय स्वयं सेवक संघ के सदस्य एवं भारतीय जनता पार्टी के सदस्य थे. वर्ष 1977 से 1980 तक कार्यकारी काउंसलर रह चुके हैं. इसके अलावा वह दो बार सांसद भी रहे हैं. खुराना 1993 से 1996 तक दिल्ली के मुख्यमंत्री रहे थे. उन्हें 2004 में राजस्थान का राज्यपाल बनाया गया था.


दिल्ली में खिलाड़ियों के लिए पांच प्रतिशत सीटें आरक्षित करने को मंजूरी

दिल्ली राज्य मंत्रिमंडल ने सभी सरकारी विभागों, सार्वजनिक उपक्रमों और स्वायत्त निकायों में पांच प्रतिशत सीटें खिलाड़ियों के लिए आरक्षित करने के एक प्रस्ताव को 30 अक्टूबर 2018 को मंजूरी दी. दिल्ली सरकार में खिलाड़ियों की नियुक्ति के लिए व्यापक नियम या प्रावधान एक महीने के भीतर बनाया जाएगा और उसे शिक्षा निदेशालय द्वारा मंजूरी दी जाएगी.

खेल जगत

वेस्ट इंडीज के क्रिकेटर ड्वेन ब्रावो की अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट से सन्यास की घोषणा

वेस्ट इंडीज के ऑलराउंडर क्रिकेटर ड्वेन ब्रावो ने 25 अक्टूबर को अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट से सन्यास लेने की घोषणा की. 35 वर्षीय ब्रावो ने 2004 में अपना पहला अंतरराष्ट्रीय मैच खेला था. उन्होंने वेस्ट इंडीज के लिए 40 टेस्ट, 164 वनडे और 66 टी-20 इंटरनैशनल मैच खेले. उन्होंने अपना आखिरी अंतरराष्ट्रीय मैच सितंबर 2016 में पाकिस्तान के खिलाफ टी-20 इंटरनैशनल मैच खेला था.


विश्व बिलियर्डस खिताब 2018 का ख़िताब सौरव कोठारी ने जीता

भारत के सौरव कोठारी ने 2018 डब्ल्यूबीएल विश्व बिलियर्डस चैंपियनशिप का खिताब जीत लिया है. 26 अक्टूबर को लीड्स में उन्होंने सिंगापुर के पीटर गिलक्रिस्ट को हराकर इस ख़िताब पर जीत दर्ज की है. उन्होंने छह बार के विश्व और पिछले चैंपियन इंग्लैंड के डेविड कॉसियर को अंतिम मिनट में 1317-1246 से शिकस्त दी. कोठारी पूर्व राष्ट्रीय और एशियाई बिलियर्डस चैंपियन हैं. उन्हें विश्व बिलियर्डस खिताब के लिए पिछले दो वर्षो में दो मौकों पर हार का मुंह देखना पड़ा था.


इंडिया ओपन गोल्फ का खिताब खलिन जोशी ने जीता

भारतीय गोल्फर खलिन जोशी ने 28 अक्टूबर को ओपन इंडिया में जीत दर्ज कर एशियाई टूर का अपना पहला खिताब जीता. बांग्लादेश के सिद्दिकुर रहमान उनसे एक शाट पीछे दूसरे स्थान पर रहे. खलिन पिछले आठ साल में इस टूर्नामेंट को जीतने वाले सातवें भारतीय खिलाड़ी हैं. इससे पहले अनिर्बाण लाहिड़ी, दिग्विजय सिंह, एसएसपी चौरसिया, चिराग कुमार, मुकेश कुमार और शिव कपूर खिताब जीत चुके थे.

विविध घटनाक्रम

प्रगतिशील समाजवादी पार्टी लोहिया को चुनाव आयोग से मान्यता

चुनाव आयोग ने 23 अक्टूबर को ‘प्रगतिशील समाजवादी पार्टी लोहिया’ नाम से राजनीतिक दल के रूप में पंजीकृत कर लिया. यह राजनीतिक दल समाजवादी पार्टी के संस्थापक मुलायम सिंह यादव के छोटे भाई शिवपाल यादव ने नेतृत्व में बनायी गयी है. उन्होंने हाल ही में समाजवादी पार्टी (सपा) से अलग होकर ‘समाजवादी सेकुलर मोर्चा’ बना कर सपा से नाराज नेताओं को इकट्ठा करना शुरू कर दिया था.


24 अक्टूबर: संयुक्त राष्ट्र संघ दिवस

24 अक्टूबर को पूरे विश्व में संयुक्त राष्ट्र संघ दिवस मनाया जाता है. इस वर्ष 2018 में 73वां संयुक्त राष्ट्र संघ दिवस है. संयुक्त राष्ट्र ने इस साल की थीम ‘शांति और अहिंसा की परंपरा’ रखी थी. थीम का चुनाव भारत ने किया, जो राष्ट्रपति महात्मा गांधी के विचारों से प्रेरित है.

इस अवसर पर न्यूयॉर्क स्थित मुख्यालय में संगीत समारोह का आयोजन किया गया है. विख्यात सरोद वादक अमजद अली खान ने ऐतिहासिक महासभा कक्ष में सरोद वादन प्रस्तुत किया.

द्वितीय विश्व युद्ध के बाद 24 अक्तूबर 1945 को विश्व के 50 देशों ने संयुक्त राष्ट्र अधिकार पत्र पर हस्ताक्षर कर इसका गठन किया था. भारत शुरुआती दिनों से ही इसका सदस्य है. संयुक्त राष्ट्र की छह आधिकारिक भाषाएं हैं- अरबी, चाइनीज, अंग्रेजी, फ्रेंच, रसियन और स्पैनिश. आधिकारिक भाषाएं छह हैं, लेकिन यहां पर संचालन भाषा केवल अंग्रेजी और फ्रेंच हैं.


पहला जेसीबी पुरस्कार मलयाली लेखक बेन्यामिन को

साहित्य के क्षेत्र में प्रदान किए जाने वाला पहला जेसीबी पुरस्कार मलयाली लेखक बेन्यामिन को दिया जायेगा. उन्हें यह पुरस्कार उनकी किताब ‘जैस्मिन डेज’ के लिए दिया गया है. पुरस्कार की घोषणा करते हुए ज्यूरी के अध्यक्ष विवेक शानबाग ने 24 अक्टूबर को की.

जैस्मिन डेज: ‘जैस्मिन डेज’ पश्चिम एशिया में रहने वाले दक्षिण एशियाई लोगों की जिंदगी पर आधारित है. यह किताब मूलत: मलयालम में लिखी गयी है और शहनाज हबीब ने इसका अंग्रेजी में अनुवाद किया है. बेन्यामिन को पुरस्कार के रूप में 25 लाख रुपये नकद और एक ट्राफी प्रदान की गई. इसके अलावा हबीब को पांच लाख रुपये का अतिरक्त पुरस्कार भी दिया गया. बेन्यामिन की किताब ‘जैस्मिन डेज’ ने चार लेखकों अमिताभ बागची, अनुराधा रॉय, शुभांगी स्वरूप और पेरुमल मुरुगन की रचनाओं को पीछे छोड़ते हुए यह पुरस्कार जीता है.

जेसीबी पुरस्कार, देश में साहित्य के क्षेत्र में सबसे अधिक राशि प्रदान करने वाल पुरस्कार है. इस पुरस्कार के विजेता को 25 लाख रुपए का पुरस्कार प्रदान किया जाता है. इसके अलावा शीर्ष 4 अन्य सर्वश्रेष्ठ रचनाओं को 1-1 लाख रुपए का पुरस्कार दिया जाता है.


भारतीय अमेरिकी नील चटर्जी की अमेरिकी संघीय ऊर्जा नियामक आयोग के प्रमुख पद पर नियुक्ति

अमेरिका के राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप ने भारतीय मूल के अमेरिकी नील चटर्जी को संघीय ऊर्जा नियामक आयोग (एफईआरसी) का प्रमुख नियुक्त किया है. यह एजेंसी अमेरिका के पावर ग्रिड और कई अरब डॉलर की ऊर्जा परियोजनाओं की निगरानी का काम करती है. चटर्जी, केविन मैकइनटायर का स्थान लेंगे. मैकइनटायर ने 22 अक्टूबर को स्वास्थ्य कारणों का हवाला देते हुए त्यागपत्र दे दिया था. यह दूसरा मौका है जब चटर्जी को इस प्रतिष्ठित एजेंसी का चेयरमैन नियुक्त किया गया है.


200 किलोमीटर प्रतिघंटे के रफ्तार से चलने वाली रेल इंजन ‘वैप-5’ का निर्माण

भारतीय रेलवे ने एक ऐसा रेल इंजन बनाया है, जो 200 किलोमीटर प्रतिघंटे के रफ्तार से रेलगाड़ी को चला सकता है. वैप-5 नाम के इस इंजन को एयरो-डायनामिक डिजायन के साथ तैयार किया गया है. इस डिजायन के कारण अधिक रफ्तार के समय इसके साथ-साथ हवा के खींचे जाने की समस्या कम होगी. इस इंजन का निर्माण रेल मंत्रालय के अधीनस्थ चितरंजन लोकोमोटिव वर्क्स ने किया है. इसमें ड्राईवर की डेस्क की सुविधाओं में भी सुधार किया गया है. गियर संचालन की व्यवस्था को भी बेहतर बनाया गया है. इस इंजन को गतिमान, शताब्दी और राजधानी एक्सप्रेस जैसी रेलगाड़ियों में इस्तेमाल किया जाएगा.


दिल्ली में अन्तर्राष्ट्रीय आर्य महा सम्मेलन

11वें अन्तर्राष्ट्रीय आर्य महा सम्मेलन का 28 अक्टूबर 2018 को समापन हो गया. यह सम्मेलन नई दिल्ली में 25 से 28 अक्टूबर 2018 तक आयोजित किया गया था. चार दिन के इस सम्मेलन का उद्घाटन राष्ट्रपति राम नाथ कोविंद ने किया था. इस सम्मेलन में 30 से अधिक देशों के प्रतिनिधियों समेत कुछ राज्यों के गवर्नर और मुख्यमंत्रियों के साथ कई केंद्रीय कैबिनेट मंत्री ने हिस्सा लिया. सम्मेलन के आखिरी दिन केंद्रीय गृह मंत्री राजनाथ सिंह ने संबोधित करते हुए विविधता में एकता को भारत की सबसे बड़ी ताकत बताई. उन्होंने भारतीय संस्कृति को विश्व की सबसे सर्वश्रेष्ठ सांस्कृतिक धरोहर बताया.


31 अक्टूबर: सरदार वल्लभ भाई पटेल जयंती

31 अक्टूबर को लौह पुरुष सरदार वल्लभ भाई पटेल की जयंती है. उनके जन्मदिन को ‘ऱाष्ट्रीय एकता दिवस’ के तौर पर मनाया जाता है. देश में राष्ट्रीय एकता की भावना का संचार करने के उद्देश्य से बीते 4 सालों से केन्द्र सरकार इस दिन ‘रन फॉर यूनिटी दौड़’ कार्यक्रम का आयोजन करती है.

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी गुजरात में सरदार पटेल की पर विश्‍व की सबसे ऊंची प्रतिमा ‘स्‍टैच्‍यू ऑफ यूनिटी’ को राष्‍ट्र को समर्पित करेंगे. गु़जरात के नर्मदा किनारे केवाडिया में बने यह प्रतिमा 182 मीटर ऊंची है, जो कि दुनिया की सबसे ऊंची प्रतिमा बन गयी है.